डॉक्टर पर निबंध – डॉक्टर के बारे में जानकारी – Essay on Doctor in Hindi [2022]

आज का निबंध डॉक्टर के व्यवसाय के विषय पर लिखा गया है। इस निबंध में हम डॉक्टर (चिकित्सक) के बारे में जानकारी देंगे और जानेंगे डॉक्टर के कर्तव्य क्या होते हैं। साथ ही ये भी जानेंगे की जीवन में डॉक्टर का महत्व क्या होता है, 2022 में डॉक्टर कैसे बने, डॉक्टर के कितने प्रकार होते हैं। तो आईये पढ़ते हैं डॉक्टर पर निबंध Essay on Doctor in Hindi और पूरी जानकारी लेते हैं। 

डॉक्टर पर निबंध – Essay About Doctor in Hindi 

प्रस्तावना

हमारे समाज में डॉक्टर एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। यह बेहद जिम्मेदार नागरिक होते हैं। डॉक्टर के बिना बीमारियों को कोई नियंत्रित नहीं कर सकेगा। जिससे कम ही समय में यह बीमारी भयंकर रूप ले लेगी । इसलिए डॉक्टरी के प्रोफेशन को बहुत आदर दिया जाता है।

धरती पर डॉक्टर को भगवान का दर्जा दिया जाता है। डॉक्टरी की पढ़ाई करने के लिए लोगो को कई साल तक पढ़ती है और इस पढ़ाई के दौरान लोगों को लाखों रुपए खर्च करने पड़ते । हैं यही वजह है कि इस प्रोफेशन में बहुत कम लोग आप आते हैं क्योंकि पढ़ाई का खर्च वहन करना उनके बस की बात नहीं होती है

अन्य लेख :- स्वच्छ भारत अभियान पर निबंध

डॉक्टर की भूमिका (Doctor Importance in our life)

डॉक्टर बनने के लिए विद्यार्थी जीवन में लोगों को काफी पढ़ाई करनी पड़ती है। तब जाकर उन्हें डॉक्टरी की डिग्री हासिल होती है। डॉक्टर पेशा के लोग अपने ज्ञान के जरिए नहीं बल्कि बीमारी के लक्षण को समझ कर मरीज को ठीक करने के लिए बेहतर से बेहतर इलाज देते हैं। जिससे कि वह जल्द से जल्द स्वस्थ हो जाए।

डॉक्टर कैसे बने (How to Become Doctor in Hindi)

डॉक्टर बनने के लिए छात्र को पहले प्रवेश परीक्षा पास करनी होती है। इसके बाद मेडिकल स्कूल में प्रवेश लेना जरूरी होता है। स्नातक डिग्री प्राप्त करने के लिए 4 साल मेडिकल की पढ़ाई करनी पड़ती है ।इसके बाद उन्हें एक प्रीमीड होने के लिए योग्य बनाता है। 4 साल की पढ़ाई कर लेने के बाद वह डॉक्टर बनकर  दवाई लिखने योग्य हो जाता है। वह रोगी की दिक्कतों को समझ कर उसे उचित सलाह और दवा देने में सक्षम हो जाता है।

अन्य लेख :- मेरा प्रिय खेल 

डॉक्टर के सहायक

डॉक्टर हर समय मरीज के इलाज के लिए खड़ा होता है ।वही डॉक्टर की मदद के लिए चिकित्सा विभाग में कंपाउंडर ,नर्स भी उनकी सहायता करते हैं। मरीजों की की जरूरतों को ध्यान रखते हैं ,और आवश्यकता पड़ने पर डॉक्टर की सहायता भी करते रहते हैं।

हमेशा अपने साथ आपातकालीन के लिए कुछ आवश्यक दवाइयां और उपयोगी सामान रखे रहते हैं। जिससे कि आपातकालीन स्थिति में मरीज का बेहतर इलाज हो सके।इस तरह से हम कह सकते है ये डॉक्टर का पेशा एक बहुत की नेक प्रोफेशन है।जिसके तहत लोगो को जीवन दान दिया जाता है।

अन्य लेख :- पुस्तक की आत्मकथा

डॉक्टर के प्रकार (Types of Doctor in Hindi)

डॉक्टर पेशे के लोग हमेशा सफेद रंग के कपड़े पहनते हैं। इसी से उनकी पहचान की जाती है। डॉक्टर भी कई प्रकार के होते हैं। शरीर के विभिन्न अंगों के के इलाज के लिए अलग-अलग डॉक्टर होते हैं ।जैसे कि दांतो का इलाज करने वाला डॉक्टर डेंटिस्ट होता है वैसे ही विभिन्न अंगों के अलग-अलग स्पेशलिस्ट डॉक्टर होते हैं।

कोरोना की स्थिति में डॉक्टर

पिछले 2 सालों से कोरोना जैसी महामारी की स्थिति में डॉक्टर ने पूरी दुनिया में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।डॉक्टर अपने जान की बाजी लगाकर कोरोना से पीड़ित मरीजों का इलाज कर रहे हैं । इनमें से बहुत से डॉक्टर ऐसे थे जिन्होंने बिना किसी भी प्रकार के आराम किए मरीजों के इलाज में लगे रहे  जिससे उनकी सेहत भी बिगड़ गई।बहुत से डॉक्टर इलाज करने के दौरान खुद संक्रमित हो गए जिससे की उनकी मृत्यु हो है।

यही वजह है कि सभी भारत वासियों ने कोरोना जैसी इस महामारी से लड़ने वाले सभी योद्धाओं के सम्मान हेतु और उनका उत्साह बढ़ाने के लिए दीए जलाएं

इसीलिए सभी भारत वासियों ने कोरोना के इस महामारी में कोरोना से लड़ने वाले सभी योद्धाओं के सम्मान के लिए और उनका उत्साह बढ़ाने के लिए दीए जलाएं गए। भारतवर्ष में 1 जुलाई प्रतिवर्ष डॉक्टर दिवस के रूप में मनाया जाता है।

सेवा और साधना पर आधारित जीवन

डॉक्टर का पूरा जीवन सेवा और साधना में समर्पित हो जाता है। यह अपने प्रोफेशन में कई बार ऑपरेशन के समय कई घंटों तक काम करना पड़ता है। ये ठीक तरीके से आराम भी नहीं कर पाते।वही सरकारी अस्पतालों में तो स्थिति कहीं खराब है ।यहां पर डॉक्टरों को कई- कई घंटों रोगियों को देखना पड़ जाता है। रोगी की स्थिति यदि गंभीर है ,तो ऐसे में उन्हें रात में कई- कई बार जांच करनी पड़ जाती है। कम शब्दों में बयां करें तो डॉक्टर मनुष्य को जीवन दान देकर उस पर बहुत बड़ा उपकार करता है।

कमाई का पेशा डॉक्टरी

आज का दौर में लोगो को पैसा अधिक प्रिय है। डॉक्टर पैसे कमाने के लिए मरीज के स्वास्थ्य के साथ खेल जाता है। कई ऐसे डॉक्टर है, जो इतनी अधिक फीस मरीजों से लेते हैं कि वह अपना इलाज करने से पहले सोचते हैं। निर्धन लोग पैसे के अभाव में बिना इलाज के ही बिना मौत के मारे जाते हैं।

अच्छे डॉक्टर की विशेषता

एक अच्छे डॉक्टर को मरीज के प्रति समर्पित होना चाहिए। आवश्यकता पड़ने पर मरीज फीस में भी रियायत करना चाहिए। डॉक्टर का मृदुल स्वभाव का होना जरूरी होता है। डॉक्टर ही ऐसा व्यक्ति होता है, जो मरीज के अंदर उम्मीद और विश्वास जगाता है। कि वह बेहद जल्दी ठीक हो जाएगा।उसके चेहरे की मुस्कान रोगी की बड़ी से बड़ी बीमारी को दूर भगा देती है। यही वजह है कि डॉक्टर खूब पैसा बनाने के लिए इस प्रोफेशन में नहीं आना चाहिए ,बल्कि उसके मन में सेवा करने की भावना होनी चाहिए।

डॉक्टर की आवश्यकता

डॉक्टर के बगैर हमारी चिकित्सा व्यवस्था चरमरा कर गिर जाएगी। चारों तरफ बीमारियों का आतंक होगा ।इलाज के अभाव में मरीज दम तोड़ने लगेंगे। आधुनिक समय में अत्याधुनिक चिकित्सीय उपकरणों को चलाने के लिए डॉक्टर की आवश्यकता होती है। बगैर डॉक्टर के मशीन को चलाना असंभव है। छोटे से बड़े हर मर्ज के लिए डॉक्टर की जरूरत पड़ती है। डॉक्टर के अभाव में मरीज का छोटा सा रोग गंभीर रूप लेगा।इसलिए देश में अधिक से अधिक डॉक्टरों का होना बेहद आवश्यक है। इनके बगैर ना तो कोई शिशु जन्म ले सकता है और युवा से लेकर बुजुर्ग तक इलाज के अभाव में बेमौत मारे जाएंगे।

ये भी पढ़ें :-

निष्कर्ष

सभी प्रोफेशन में डॉक्टर के प्रोफेशन को सबसे अच्छा प्रोफेशन माना जाता है क्योंकि यही एक प्रोफेशन के लोग है जोकि लोगो की जान बचाते है। ईश्वर के बाद पृथ्वी पर यदि किसी को भगवान का दर्जा दिया गया है तो वह डॉक्टर है। यही वजह है कि डॉक्टर को लोग बेहद सम्मान की दृष्टि से देखते हैं । एक डॉक्टर का पूरा जीवन काल मानव जाति की भलाई और सेवा में जाता है। 

Leave a Comment