समाचार पत्रों का महत्व पर निबंध [शिक्षा के क्षेत्र और लोकतंत्र में] 2022

आज का हमारा यह लेख समाचार पत्रों के महत्व नामक शीर्षक से उत्पन्न है। इस लेख में हम ने समाचार पत्रों के दैनिक उपयोग तथा समाचार पत्रों के महत्व पर प्रकाश डाला है। विद्यार्थी द्वारा एक बार अध्ययन कर लेने से उन्हें इस लेख में लिखित बातें स्मरणीय हो जाएंगे तथा वह आसानी से अपने शब्दों में लिख कर उचित अंक प्राप्त कर लेंगे। 

अतः सभी विद्यार्थियों से अनुरोध है कि यहाँ समाचार पत्र का महत्व निबंध हिंदी में दिया गया है एक बार इस लेख का अध्ययन अवश्य करें। इसे पूरा पढ़ने के बाद अपने शब्दों में लिखकर अपने विचारों को अपने लेख में प्रकट करें जिससे आपकी लेखन  क्षमता में वृद्धि होगी।

अन्य लेख :-

समाचार पत्रों का महत्व (निबंध) – (Importance of Newspapers in Hindi)

समाचार पत्र आज ही नहीं अपितु प्राचीन समय से ही बहुत ही आवश्यक रहे हैं। इंटरनेट का साधन नहीं था तब उससे दुनिया में लोग पत्रों पर ही किसी समाचार को लिखते थे। पहले समाचार पत्र बड़े बड़े पेड़ों के के पत्तों पर लिखा जाता था । समाचार पत्र अथवा पत्र का महत्व प्राचीन काल से ही चला आ रहा है। 

हमारे गांवों में दूर-दूर तक जब नेटवर्क के साधन उपलब्ध नहीं थे तब हम किसी भी समाचार को समाचार पत्रों के माध्यम से ही जान पाते थे। यहां तक कि विश्वविद्यालयों के मूल्यांकन भी समाचार पत्रों में ही छपते थे। अब के समाचार पत्र में ना सिर्फ समाचार अपितु बाल मन को मोह लेने वाली कविताएं कहानियां एवं कई विचारों पर चर्चा होती है। 

समाचार पत्र हमारे जीवन से जुड़ी हुई एक महत्वपूर्ण कड़ी हैं जिनके बिना हम देश दुनिया से अलग अलग हो जाएंगे। समाचार पत्रों के माध्यम से हमें सामान्य ज्ञान का बोध होता है तथा देश विदेश की अलग-अलग खबरें हमें पता चलती है।

शिक्षा के क्षेत्र में समाचार पत्र का महत्व (Importance of Newspaper in the Field of Education)

शिक्षा के क्षेत्र में भी समाचार पत्रों का अत्यधिक महत्व है। हम समाचार पत्रों के माध्यम से ही अनेकों जानकारियां एकत्रित करते हैं तथा उनका अध्ययन करके हम प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारियां करते हैं। जब इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध नहीं थी तब भी विद्यार्थी समाचार पत्रों में ही अपने टाइम टेबल , मार्कशीट इत्यादि जांचते थे।

 अभी भी जो विद्यार्थी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारियां कर रहे हैं उनके लिए समाचार पत्र एक शिक्षा का साधन है। समाचार पत्रों के माध्यम से हम आसानी से जान पाते हैं कि हमारे राजनीतिक क्षेत्र में क्या हो रहा है, चुनावों में किसकी विजय हुई है तथा नए रिकॉर्ड कौन से बने  प्रत्येक दिन समाचार पत्रों का अध्ययन करने से विद्यार्थियों को देश में घटित होने वाले सभी घटनाओं के बारे में ज्ञान रहता है। 

तथा वह अपने प्रतियोगी परीक्षाओं में इसकी मदद से अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं। समाचार पत्रों को पढ़ते हैं उनको अलग से कोई भी सामान्य ज्ञान की पुस्तक लेने की आवश्यकता नहीं पड़ती वह समाचार पत्रों के माध्यम से ही ज्ञान अर्जित कर लेते  हैं।

समाचार पत्र ज्ञान एवं मनोरंजन का साधन (Newspaper a Source of Knowledge and Entertainment)

समाचार पत्र में देश विदेश की खबरों के साथ साथ कुछ मनोरंजक बातें ज्योतिषी  बातें तथा ज्ञान की बातें भी होती हैं। समाचार पत्रों के माध्यम से हम कहानियां भी पढ़ सकते हैं। ना सिर्फ कहानियां बल्कि अलग-अलग लोगों के द्वारा भेजे गए विचार तथा नई लिखी कविताएं एवं व्यंग भी समाचार पत्रों में संपादित किए जाते हैं।

प्रत्येक समाचार पत्र का एक मनोरंजन पृष्ठ अवश्य होता है। इसमें हम ज्ञान तो प्राप्त करते ही हैं साथ ही हमारा मनोरंजन भी भली प्रकार हो जाता है। समाचार पत्रों में हमें नौकरी के अवसर भी प्रदान होते हैं तथा नए बिजनेस आईडियाज, विद्यालयों में प्रवेश तथा उभरते लेखकों की कहानियां इत्यादि पढ़ने को मिलती हैं। इस दृष्टि से समाचार पत्र ना केवल ज्ञान के लिए ही अपितु शिक्षा एवं मनोरंजन की दृष्टि से भी एक महत्वपूर्ण साधन है।

समाचार पत्र पर निबंध 100 शब्द – Essay on Newspaper in Hindi 100 Words

समाचार पत्र हमारे दैनिक जीवन का एक अभिन्न अंग है। समाचार पत्र से ही हमें अनेकों खबरों का पता चलता है। समाचार पत्र एक ऐसा साधन है जिसकी मदद से हमारे देश के कोने कोने तक देश की बड़ी जानकारियां तथा बड़े समाचार पहुंचते हैं। 

अन्य लेख :-

समाचार पत्रों का होना हमारे दैनिक जीवन में सौभाग्य की बात है। समाचार पत्र का प्राचीन काल से ही चला आ रहा है। दुनिया में इंटरनेट व्याप्त हो चुका है परंतु आज भी समाचार पत्र के शौकीन लोग देखे जा सकते हैं। कई दुकानों पर, नुक्कड़ पर और सामाजिक स्थानों पर हम समाचार पत्रों को देख सकते हैं तथा उन्हें पढ़ सकते हैं।

नियमित रूप से समाचार पत्र का पठन करना हमारे लिए तथा हमारे मस्तिष्क के लिए लाभदायक होता है। नियमित रूप से समाचार पत्रों का उपयोग करने से हम देश के प्रति जागरूक रहते हैं तथा हमारे आस-पास चल रही घटनाओं से अवगत रहते हैं।

समाचार पत्रों का महत्व निबंध 200 शब्द – Samachar Patra Ka Mahatav Hindi Nibandh 200 Words

प्रस्तावना

समाचार पत्र हमारे दैनिक जीवन का एक महत्वपूर्ण अंग है। प्राचीन काल से यह हमारा मित्र रहा है। अभी भी कई घरों में लोग समाचार पत्र से ही अपने दिन की शुरुआत करते हैं। समाचार पत्र का महत्व विद्यार्थी जीवन में भी अमूल्य योगदान देता है।

नियमित जानकारियां

जो व्यक्ति नियमित रूप से समाचार पत्र पढ़ते हैं उन्हें अपने आसपास की तथा देश विदेश की अनेकों जानकारियां होती हैं। वह जान पाते हैं कि हमारे देश की आर्थिक स्थिति कैसी है तथा लोगों में रोजगार के क्या असर है, लोगों की विचार क्या है, तथा कब कौन सी राजनीति घटना घटती है। 

बहुत से लोग समाचार पत्रों में रुचि लेते हैं तथा आपस में बैठकर समाचार पत्रों में प्रकाशित खबरों पर चर्चा भी करते हैं। यदि आप हमारे देश के किसी नुक्कड़  किसी सामाजिक स्थान का भ्रमण करें तो आपको ऐसे समाचार पत्रों के जुझारू लोग अवश्य मिलेंगे।

समय का सदुपयोग

जो लोग नियमित रूप से समाचार पत्र पढ़ते हैं। उनके समय का सदुपयोग होता है। वह अपना समय व्यर्थ नहीं गंवाते। समाचार पत्रों के नियमित उपयोग से व्यक्तियों के मन में अपने आसपास की जानकारी इकट्ठा करने के प्रति उत्साह रहता है। 

तथा वह समाचार पत्रों में छपी हुई खबरों को लेकर काफी उत्साहित रहते हैं और उसके परिणाम जानने के लिए नियमित रूप से समाचार पत्र पढ़ते हैं। समाचार पत्र में कुछ कहानियां तथा कुछ विचार अमूल्य होते हैं जिन्हें पढ़कर विद्यार्थियों में मोटिवेशन आता है। क्रिकेट प्रेमी क्रिकेट की अपडेट भी समाचार पत्रों में देखते हैं।

लोकतंत्र में समाचार पत्र का महत्व (Importance of Newspaper in Democracy)

यह तो हम सभी जानते हैं कि हमारे भारत में लोकतंत्र व्याप्त है। हमारी जनता में सरकार को पलटने की ताकत भी है। भारत एक लोकतांत्रिक देश है, तथा समाचार पत्रों के माध्यम से जनता अपने अधिकारों को जानती हैं तथा उनका उपयोग करती हैं। लोकतंत्र का अर्थ है यही होता है जहां जनता का शासन हो। 

समाचार पत्र लोकतंत्र की दृष्टि से भी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। समाचार पत्र छोटी से छोटी जानकारी भारत देश के कोने कोने तक पहुंचाता है जिससे भारत की जनता अपने विचारों को प्रकट कर सकती है। हमारे देश में कब कौन प्रतिनिधित्व कर रहा है तथा जनता का नेतृत्व करने वाला व्यक्ति कैसा है उसके चरित्र चित्रण इत्यादि के बारे में भी हम समाचार पत्रों से जानकारी हासिल कर सकते हैं।

उपसंहार

हमें भी समाचार पत्रों का नियमित रूप से उपयोग करना चाहिए। यदि हम इंटरनेट छोड़कर समाचार पत्रों से किसी समाचार को जाने तो हम उसके बारे में विशेष तथा औपचारिक जानकारियां प्राप्त कर सकते हैं। हमारे दैनिक जीवन में समाचार पत्रिका अमूल्य भूमिका निभाता है। यह किसी एक आयु के लिए नहीं बल्कि बच्चों, बड़े तथा बूढ़े सभी लोगों के लिए मनोरंजन का भी कार्य करता है। यदि आप समाचार पत्र नहीं करते तो पढ़ना शुरू कर दीजिए इससे प्रतियोगी परीक्षाओं में भी काफी लाभ होता है।

निष्कर्ष

समाचार पत्र का महत्व हमारे दैनिक जीवन में तो हम सभी समझते हैं। परंतु निबंध लेखन की दृष्टि से भी यह शीर्षक एक अनिवार्य शीर्षक है। प्रत्येक विद्यार्थी को इसका अध्ययन करना चाहिए। प्रतियोगी परीक्षाओं की दृष्टि से भी यह एक अनिवार्य विषय हैं। अतः इस लेख को पूरा पढ़ें तथा अपने शब्दों में लिखकर अध्ययन अवश्य  समाचार पत्र आपके जीवन में क्या भूमिका निभाता है और इससे आपको क्या लाभ होता है, हमें कमेंट में जरूर बताएं ।

Leave a Comment